LIVE: मानसून 2020, जलाशय व खरीफ बुआई की दशा व दिशाः लाइव साप्ताहिक अपडेट

भारत में मानसून अपडेट: 20 अगस्त, 2020 की स्थिति -19 अगस्त, 2020 को समाप्त हुये सप्ताह में उत्तरी बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र निर्मित होने तथा इसके ओडशा, झारखंड व छत्तीसगढ़ की ओर उन्मुख होने की वजह से भारी वर्षा दर्ज की गई। आलोच्य सप्ताह (13-19 अगस्त) में 42 प्रतिशत आधिक्य (एलपीए […]

Continue Reading

भूमिगत डिफ्यूजर-ड्रिप सिंचाई का विकल्प!

वर्ल्ड रिसोर्स इंस्टीट्यूट की एक्वेडक्ट वाटर रिस्क एटलस के अनुसार भारत विश्व के उन 17 देशों में शामिल है जो अति गंभीर जल दबाव का सामना कर रहा है और ‘डे जीरो स्थिति’-जहां लोगों को निर्धारित मात्रा में प्रतिदिन पानी उपलब्ध कराया जाता है, सन्निकट है। यह भी ज्ञात है कि भारत में ताजा जल […]

Continue Reading

LIVE: मानसून 2020, जलाशय व खरीफ बुआई की दशा व दिशाः साप्ताहिक अपडेट

  भारत में मानसून अपडेट 24 जुलाई, 2020 की स्थिति   -1 जून से 22 जुलाई 2020 तक 366.3  मिलीमीटर (एमएम) की सामान्य वर्षा के मुकाबले 388.6 मिलीमीटर की वर्षा हुयी जो 6 प्रतिशत आधिक्य है।  उत्तर-पश्चिम भारत में सामान्य से 16 प्रतिशत कम (185.5 एमएम), मध्य भारत में सामान्य से 5 प्रतिशत अधिक (411.2 एमएम), […]

Continue Reading

बागजान गैस कुंआ में आगः क्यों-कैसे?

असम में ऑयल इंडिया लिमिटेड (OIL) के प्राकृतिक गैस कुंआ में ब्लोआउट के पश्चात लगी आग ने दो लोगों की जानें ली ली है, कई लोगों को आसपास के गांव से हटाकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है और आसपास के पर्यावरण व वन्यजीवों पर इसका जो नुकसान हुआ है वह अलग है। आग इतनी […]

Continue Reading

हिंद महासागर में फिर से उत्पन्न हो सकती है अल नीनो परिघटना?

हम सभी अल नीनो भौगोलिक परिघटना से सुपरिचित हैं। राष्ट्रीय महासागरीय एवं वायुमंडलीय प्रशासन, यूएस (एनओएए) के अनुसार ‘अल नीनो मध्य एवं पूर्वी उष्णकटिबंधीय प्रशांत महासागर में महसागरीय सतह तापमान के उष्ण होने से जुड़ी प्राकृतिक तौर पर घटित होने वाली जलवायु प्रणाली है।’ यह प्रणाली प्रत्येक दो से सात वर्षों पर उत्पन्न होती है […]

Continue Reading

आईएमडी पूर्वानुमान से पहले मानसून आगमन

भारत में दक्षिण-पश्चिम मानसून आगमन का समय 1 जून है और यह सर्वप्रथम केरल में आता है। मानसून आगमन को कई कारक प्रभावित करते हैं जैसे कि इंडियन ओशन डायपोल, ईएनएसओ (ENSO), पछुआ हवा इत्यादि। इंडियन ओशन डायपोल पश्चिमी व पूर्वी हिंद महासागर में तापांतर है वहीं प्रशांत महासागर में एल नीनो व ला नीनो […]

Continue Reading

हिमालय में बर्फ पिघलने से अरब सागर में जहरीला ‘नोक्टिलुका सिंटिलैंस’ शैवाल की बहार

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ‘नासा’ के उपग्रह से लिए गए तस्वीरों में अरब सागर के तटों पर ‘नोक्टिलुका सिंटिलैंस’, जिसे ‘सी-स्पार्कल’ भी कहा जाता है, की बहार देखी गई है। इन्हीं चित्रों के आधार पर एक अमेरिकी शोध प्रकाशित हुआ है जिसमें ‘नोक्टिलुका सिंटिलैंस बहार’ (Noctiluca scintillans blooms) को जलवायु परिवर्तन की वजह से हिमालय में […]

Continue Reading

अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए क्या ‘क्लाइमेट एक्शन’ की बलि दी जाएगी?

पूरी दुनिया आज अभूतपूर्व दयनीय स्थिति का सामना कर रहा है। कोरोनवायरस संक्रमण पर काबू पाने के लिए लोगों को घर में ही रहने के आदेश से अधिकांश आर्थिक गतिविधियां थम सी गईं हैं। इसका परिणाम यह हुआ है कि करोड़ों लोगों पर बेरोजगारी का खतरा मंडराने लगा है, इनकी आय कम हो गई है […]

Continue Reading

ऋणात्मक तेल मूल्य के क्या मायने हैं?

कल्पना कीजिए कि आप किसी दुकान पर जाते हैं और दुकानदार से एक चॉकलेट मांगते हैं जिसका मूल्य दस रुपये है। दुकानदार आपको मुफ्रत में चॉकलेट देता है, साथ में आपको पांच रुपये भी देता है। आपका हैरान होना स्वाभाविक है। आप यह सोचेंगे कि क्या ऐसा संभव है। वैसे वास्तविक दुनिया में तो यह […]

Continue Reading

अभिशप्त कोविड-19 का ‘स्वच्छ वायु’ वरदान

एक ओर जहां आज कोरोनावायरस (सार्स- सीओवी-2) जनित कोविड-19 महामारी की वजह से मानव जगत की बड़ी आबादी अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है, वहीं भारत में ‘सोशल डिस्टैंसिंग’ के आह्वान के बीच दिहाड़ी मजदूरों का ‘रिवर्स माइग्रेशन’ महामारी के भय पर भारी पड़ रहा है जो अपने आपमें एक बहुत बड़ी त्रासदी है। यह […]

Continue Reading