जानलेवा और विनाशकारी होती हैं सुनामी तरंगें

जानलेवा और विनाशकारी होती हैं सुनामी तरंगें

भूगोल और आप

जापान में सु-नाह-मी के नाम से जाना जाने वाला यह शब्द आमतौर पर अपने प्रचलित रूप में सुनामी के रूप में विख्यात है। समुद्र में कंपन के फलस्वरूप जो तेज और ऊँची लहरें उठती हैं, वे एक के बाद एक लगातार आती रहती हैं और आम तरंगों से कई गुणा ज्यादा ताकतवर होती हैं ।

दरअसल सुनामी जापानी भाषा का शब्द है, जिसका मतलब होता है समुद्रतटीय तरंगें। यह जापानी भाषा के दो शब्दों को मिलाकर बनाया गया है- ‘सू’ यानी समुद्रतट, और ‘नामी’ यानी तरंगें। अतीत में आम बोलचाल में सुनामी तरंगों को ज्वारीय तरंगें कहा जाता था, परंतु अब वैज्ञानिकों द्वारा इसे सिस्मिक समुद्री तरंगें कहा जाता है। सुनामी की तुलना आम तौर पर ज्वारीय तरंगों से की जाती है, वास्तव में सुनामी तरंगें ज्वार से बिल्कुल अलग होती हैं। ज्वार का कारण पृथ्वी पर चंद्रमा, सूर्य और अन्य ग्रहों का असंतुलित, गुरुत्वीय और अंतरिक्षीय प्रभाव होता हैं लेकिन सुनामी समुद्रतल में होने वाली किसी तेज हलचल या जमीन के अंदर किसी बड़े विस्फोट या भू-स्खलन का परिणाम होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *