Satat Vikas

Dr. B.C. Jaat

ISBN No. 978-81-938071-1-8 Vol No.

INR 275.00

inclusive of all taxes

Quantity

In stock

हमारे अधिकांश संसाधन सीमित हैं और ये वैसे संसाधन हैं जिनके बिना हम पृथ्वी पर जीवन की परिकल्पना नहीं कर सकते। ऐसे में इनका दीर्घावधिक उपयोग की रणनीति जरूरी है। संसाधनों का सतत् विकास इसी रणनीति का हिस्सा है। इस पुस्तक में ‘सतत् विकास की अवधारणा एवं उसके घटकों को सोदाहरण स्पष्ट किया गया है, साथ ही भारत सहित पूरे विश्व में सतत् विकास की दिशा में किए जा रहे प्रयासों का भी वर्णन किया गया है। समसामयिक विश्व में जिस तरह सतत् विकास अत्यधिक प्रासंगिक है, उसी अनुरूप यह पुस्तक भी पर्यावरण अध्ययन में रूचि रखने वाले शिक्षकों एवं छात्रों के लिए अति प्रासंगिक है।

Product Details

  • Publisher: Iris Publication Pvt. Ltd.
  • Language: Hindi
  • Binding:
  • Year of Publication: 2018
  • Edition: 1st Edition
  • ISBN: 978-81-938071-1-8
  • No. of pages: 112